Real Expose 

8 साल की मासूम आसिफा जिंदा लाश बन चुकी थी फिर भी फोन करके पुलिस वाले ने कहा- मरने मत देना, हम सेक्स करेंगे

सोशल मीडिया के मंच से आसिफा के लिए इंसाफ की मांग तेज हो गई है। पिछले दो दिनों से लगातार सोशल मीडिया पर #JusticeforAsifa ट्रेंड कर रहा है। तमाम पत्रकार, बुद्धिजीवी और प्रगतिशील लोग इस वीभत्स घटना पर अपना दुख वक्त करते हुए सरकार से सवाल पूछ रहे हैं।

वही इस मामले कुछ लोगों का रुख बेहद ही शर्मनाक है। सत्ताधारी पीडीपी के साथ मिलकर सरकार चलाने वाली बीजेपी के समर्थक लगातार इस रेप को हिंदू बनाम मुस्लिम की तरह पेश कर रहे हैं।

आठ साल की आसिफा के साथ आठ दिन तक बलात्कार किया जाता है और फिर उसकी हत्या कर दी जाती है। इस दर्दनाक घटना को पत्रकार निशांत चैरसिया ने अपने शब्दों में बेहद ही मार्मिक ढ़ंग पेश किया है।

”बिना खाए पिए 8 साल की आसिफ़ा, कई बार अधेड़ मानवखोरों के रेप करने के बाद मरने को तैयार ही थी कि एक फ़ोन आता है, फ़ोन से आवाज़ आती है,

“अभी मरने नहीं देना, हम भी करेंगे उसके साथ सेक्स, मरते दम तक सेक्स करना है हमें, मारने के पहले अंतिम बार हम करेंगे बलात्कार” फ़ोन जाँच अधिकारी यानी पुलिसवाले का होता है।

8 दिन की भूखी मरणासन्न आसिफ़ा को मुँह पर पानी छिड़ककर होश में लाया जाता है, उसे भूखे पेट अचेत लड़की को नशे और सेक्सवर्धक दवा खिलाया जाता है। और फिर टूट पड़ते है दरिंदे उस लड़की पर, फिर से बलात्कार किया जाता है उस मासूम का, तबतक किया जाता जबतक उसके अंग छतिग्रस्त नहीं हो जाते।

अंतिम साँस रुकने का इंतज़ार किया जाता है, फिर भी नहीं दिल भरता तो पत्थर से सर पर मारकर आसिफ़ा को इस जहन्नुम से विदा किया जाता है। वो मासूम बिटिया विदा हो जाती इन हैवानो की दुनिया से अपने दुनिया में। माफ़ करना आसिफ़ा हम लोग तुम्हारे लिए कुछ नहीं कर सकते।”

Related posts

Leave a Comment