loading...
पिछली कांग्रेस सरकार को कोसने वालों एक बार अटल जी का ये भाषण सुनलो - XtroGuru
India 

पिछली कांग्रेस सरकार को कोसने वालों एक बार अटल जी का ये भाषण सुनलो

पुराने समय की राजनीति और अभी के समय की राजनीति में बहुत फर्क हो चुका है। पहले की राजनीति में नेता लोग मुद्दों पर चुनाव लड़ा करते थे लेकिन अब की राजनीति में बहुत फर्क आ चुका है। क्योंकि अभी के जो भी नेता है वो अपने विपक्ष नेता को कोसकर चुनाव जीतना चाहते है।

वह इस मुद्दे पर चुनाव नहीं लड़ते है कि, वह देश की जनता के लिए क्या करेंगे, बल्कि इस मुद्दे पर चुनाव लड़ते है की पिछले नेता ने क्या किया था। और भारतीय जनता पार्टी के सभी नेताओं की यह खासियत रही है कि, वह हमेशा कांग्रेस को कोसती रही है।

जब भाजपा विपक्ष में थी तब कांग्रेस सरकार को महंगाई और बढ़ते पेट्रोल के दाम पर राजनीति करती थी। भारतीय जनता पार्टी के सभी नेता महंगाई बढ़ने और पेट्रोल के दाम बढ़ने पर खूब ढोंग करते थे और सड़कों पर प्रदर्शन करते थे। भाजपा ने विपक्ष में रहते हुए पेट्रोल के दाम बढ़ने पर भारत बंद भी किया था और इस दौरान भाजपाइयों ने भारत में खूब तोड़-फोड़ की थी।

महंगाई का विरोध करते हुए बीजेपी के नेता लोग

हालाँकि, उस समय क्रूड आयल की कीमत सौ के पार थी और अब जबकि क्रूड आयल की कीमत उससे आधी है तब भी मोदी सरकार पेट्रोल के दाम पहले से ज्यादा बढाए हुए है और महंगाई की मार पहले की सरकार से ज्यादा ही है तब भी भाजपा कांग्रेस को इस बात पर कोसती रहती है कि, पिछले साठ सालों में कांग्रेस ने इस देश को लूटा ही था।

लेकिन आज हम आपको भाजपा के वरिष्ठ नेता अटल बिहारी का संसद का एक विडियो दिखाना चाहते है जिसमें उन्होंने हक बात कही है और उनकी इस बात की जरुर तारीफ की चाहिए। वैसे अटल जी की सोच ये थी कि, ‘किसी की भी बुराई करके चुनाव जीतने से बेहतर है चुनाव हार जाना।” अटल जी ने एक बार संसद में खड़े होकर एक बात कही थी जिसे उनकी पार्टी भाजपा और उनके नेता मोदी को यह बात जरुर याद रखनी चाहिए।

उन्होंने कहा था कि, ‘पचास साल में हमने प्रगति की है इस बात से कोई इंकार नहीं कर सकता। चुनाव के दौरान वोट मांगते हुए सरकार की नीतियों पर कठोर से कठोर प्रहार करते हुए और पुरानी सरकार की नीतियों में आलोचना करने के लायक बहुत कुछ था।’

अटल बिहारी वाजपेयी ने बताया कि, ‘हर जगह मैंने कहा कि, मैं उन लोगों में से नहीं हूँ जो पचास वर्ष की उपलब्धि पर पानी फेर दे। ऐसा करना देश के पुरुषार्थ पर पानी फेरना होगा, ऐसा करना देश के किसानों के साथ अन्याय करना होगा, मजदूर के साथ ज्यादती करनी होगी, आम आदमी के साथ भी। जो सवाल आज मन मैं उठते है वह जरुर उठने चाहिए।

आज से बीस साल पहले दिए गए इस भाषण को आज के नेताओं और उनके भक्तों को जरुर सुनना चाहिए जो सत्तर साल में देश की तरक्की पर सवाल खड़े करते है। लेकिन अभी जो खुद सत्ता में है तो पहले से ज्यादा महंगाई भी बढ़ चुकी है और इनपर उनका कोई ख़ास कदम उठता हुआ दिखाई नहीं दे रहा है। अटल बिहारी वाजपेयीजी की बातों से सभी नेताओं को सबक जरुर हासिल करना चाहिए।

Related posts

Leave a Comment

Latest Bollywood News and Celebrity Gossips